रामेश्वर उपाध्याय ने किया पुस्तक का विमोचन

  हाथरस 23 फरवरी | तरफरा रोड रूद्र फार्म हाउस में भारतीय साहित्य सृजन मंच के तत्वाधान में जाने-माने कवि एवं गीतकार प्रदीप अंजाना के काव्य...

कवि संगम के तत्वावधान में हुआ कवि गोष्ठी का आयोजन

हाथरस 22 फरवरी | मैण्डू रोड़ स्थित महादेव काॅलोनी में कवि देवेश सिसोदिया के आवास पर राष्ट्रीय कवि संगम के तत्वावधान में एक कवि...

अवशेष मानवतावादी के धर्मग्रन्थ का हुआ लोकार्पण

सिकन्दराराऊ 17 फरवरी | बृजभूमि के हाथरस जिले की सिकन्दराराऊ भूमि से अवशेष मानवतावादी द्वारा सृजित मानवता धर्मग्रन्थ के प्रथम खण्ड-आदेश का लोकार्पण एवं विमोचन...

अवशेष मानवतावादी का नया गीत-सौंप रहा हूँ एक तपस्या का प्रतिफल इन पन्नों में

गीत सौंप रहा हूँ एक तपस्या का प्रतिफल इन पन्नों में। मेरा क्या है सिर्फ लेखनी का है बल इन पन्नों में।। जब सद्गुरु की कृपा हुई...

गँगाजमुनी मुशायरा का हुआ आयोजन 

हाथरस 16 फरवरी | आज आगरा रोड स्थित श्री राधा कृष्ण कृपा भवन के सभागार में प्रमुख साहित्य एवं समाज सेवी  अमृत सिंह पौनिया के...

अवशेष कुमार ‘विमल’ की कलम से – “मैं भी नफरत सीख रहा हूँ”

मैं भी नफरत सीख रहा हूँ। एक नई खुशखबरी ये भी मैं भी नफरत सीख रहा हूँ। औरों से क्या लेना देना खुद ही खुद को जीत रहा...

अवशेष मानवतावादी की कलम से नए साल पर विशेष गीत

ओ नई साल तू एक नया युग लेकर आना। इस भूमण्डल को खास नया कुछ देकर जाना।। सदियों से चली आ रही गलत प्रथाएँ। जग को अभिशापित...

शिव कुमार ‘दीपक’ द्वारा रचित ‘शरद के दोहे’

की अगुवानी महल ने, हुआ हास परिहास । लगे छलकने शिशिर में,मदिरा भरे गिलास ।।-1 देव दिवाकर धूप की, भेजें चादर आप । होरी करता रात भर,धूप-धूप...

सुरजीत मान जलईया सिंह की कलम से – देखिए कहर-कहर

रोकिए पहर-पहर जल रहा शहर-शहर। घिर रही घटा-घटा देखिए कहर-कहर। मन्दिरों के गर्भ में आरती भी मर गयी। मौन आयतें हुईं फिर कुरान डर गयी। देखिए कि देखिए चीखती अज़ान है। लाश बेकसूर...

नितान्शी अग्रवाल की नई रचना – ‘बस तुझे सोचती हूँ’

तेरे चेहरे के नूर से, तेरे दिल की दूरी तक। तेरे पास होने से, तेरे रूठ जाने तक। बस तुझे सोचती हूँ।। वो बारिश की बूंद से, सूरज की किरण...

Hathras Wather

hathras
scattered clouds
24.3 ° C
24.3 °
24.3 °
43%
1.5kmh
42%
Tue
27 °
Wed
27 °
Thu
28 °
Fri
28 °
Sat
29 °

Latest news

Skip to toolbar