हाथरस 28 फरवरी | दिल्ली जाने वालों के लिए बड़ी खुशखबरी सामने आई है l अब नगर वासियों को दिल्ली जाने के लिए राया में घंटों जाम से नहीं जूझना पड़ेगा क्यूंकि राया बाईपास के लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू करने के प्रदेश सरकार ने निर्देश दे दिए हैं | अब तक हाथरस से जाने वाले लोगों को राया से पहले रेलवे क्रॉसिंग होने के कारण भी घंटों जाम से जूझना पड़ता था | हमारा हाथरस को नगर वासियों ने बताया कि हाथरस से दिल्ली जाने के लिए आज भी सबसे अच्छा विकल्प यमुना एक्सप्रेस है ,जाम न होतो इस रास्ते से हाथरस वासियों को दिल्ली पहुंचने में ढाई घंटे का समय लगता है | लेकिन जयपुर पीलीभीत मार्ग होने के चलते व इस रूट पर रहने वाले सभी लोग दिल्ली जाने के लिए इसी रस्ते का इस्तेमाल करते रहे हैं | जिसके चलते राया में घंटों जाम की स्थिति बनी रहती है | लेकिन राया में जाम के चलते हाथरस वासी पिछले कई वर्षों से हाथरस से अलीगढ़ खैर होते हुए टप्पल वाले कट से यमुना एक्सप्रेसवे पकड़ते हैं वहीँ कुछ हाथरस अलीगढ़ खुर्जा सिकंदराबाद दादरी लाल कुआं होते हुए दिल्ली जाते हैं | लेकिन लम्बे रूट में हाथरस वासियों का एक घंटा समय अधिक लगता है | अब इस समस्या का निदान हो जाएगा | विधानसभा में एक प्रश्न के दौरान उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने राया बाई पास को हरी झंडी दे दी है | मुख्यमंत्री ने विधानसभा में बताया कि राया क्षेत्र से गुजरने वाली रोड को राष्ट्रीय राजमार्ग के रूप में नोटिफाइड किया जा चुका है | वहीं भू अर्जन कमेटी भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण मुख्यालय द्वारा भूमि अर्जन की प्रक्रिया को भी प्रारंभ करने की स्वीकृति दे दी गई है | राष्ट्रीय राजमार्ग नोटिफाइड होने और बाईपास बनने से नगर वासियों को घंटो रहने वाले जाम से अब मुक्ति मिल सकेगी |

4 टिप्पणी

  1. ये रास्ता बिल्कुल गलत है।अगर मीतई तिराहे से सीधा मुरसान, राया,दाऊजी, को छोडते हुए गोकुल वैराज को जोडे तो हर छोटे कस्बों को लाभ होगा साथ ही दिल्ली जयपुर रूट भी जाम के झमेले से मुक्ति मिलेगी।इगलास से मथुरा रुट को बिचपुरी तिराहे से सीधे इसी बाईपास मैं जोड दिया जाये तो और भी लाभ होगा।अगर यह रोड निकलता है तो केवल और केवल हरीशंकर माहोर विधायक BJP जी का ही फायदा होगा ना कि जनता का।

  2. Ram Prakash ji esa nai hai aur hai bhi to koi bat nai ese aise hi ban.ne den… Jab apke vidhayak ya koi aur vidhayak ban jay to ap apne plan ke mutabik naya bi pass road nikal wa lena …. Jarurat tab bhi hogi hi ……

  3. yea rasta daugi hogar sonkh pachawer sea mursenia ho ker niklna chaiye jis sea sabhiwith parikrma valo ko aasani hogi or sabhi villages koof bhi hogi sabsea jyada yahi kasaba hai sadabad rod bhi hai yaha per

Comments are closed.