नई दिल्ली 27 मार्च | देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ते खतरे के बीच दूरदर्शन ने रामबाण चला है। दूरदर्शन 90 के दशक में प्रसारित मशहूर सीरियल रामायण को दिखाएगा। कल सुबह 9 बजे पहला एपिसोड प्रसारित किया जाएगा। सरकार के इस कदम को कोरोना से बचने के लिए और सोशल डिस्टेंसिंग से जोड़कर देखा जा रहा है।

90 के दशक में सड़कें हो जाती थीं खाली
90 के दशक में रामायण का ऐसा जादू था कि इसके प्रसारण के समय पूरी सड़कें खाली हो जाया करती थीं। सड़कें सुनसान हो जाती थीं और लोग घरों में इस इस ऐहतिहासिक सीरियल को देखने के लिए जुट जाते थे। हालांकि, उस समय किसी-किसी घर में ही टीवी हुआ करता था। लेकिन अब भारत के ज्यादातर घरों में टीवी है। ऐसे में लोग इस सीरियल को देखने के लिए अपने घरों में ही रह सकते हैं।

सीरियल के कलाकारों को भगवान मानते थे लोग
लोग सीरीयल में काम करने वाले कलाकारों अरुण गोविल (राम की भूमिका निभाने वाले) और दीपिका (सीता की भूमिका निभाने वालीं) को भगवान की तरह पूजते थे। कई मौकों पर इस सीरियल में काम करने वाले कलाकार इस बारे में बता चुके हैं।

प्रकाश जावड़ेकर बोले- लोगों की मांग पर फिर से रामायण
सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज बताया, ‘मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि लोगों की मांग पर हम कल से रामायण धारावाहिक का कल से डीडी नैशनल पर प्रसारण शुरू करने जा रहे हैं। पहला एपिसोड सुबह 9 बजे से 10 बजे तक और दूसरा रात 9 बजे से 10 बजे तक प्रसारित किया जाएगा।’

कोरोना के मामलों में हो रही है बढ़ोतरी
गौरतलब है कि देश में कोरोना के मामले में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। देश में अब तक 694 कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई है। 16 लोगों की कोरोना के कारण मौत हो चुकी है। पीएम नरेंद्र मोदी ने लोगों से घरों में रहने की अपील की है। पूरे देश में 21 दिनों का लॉकडाउन है।