हाथरस 18 दिसम्बर । कफी हाईलाइटेड रहे बूल गढ़ी कांड में आज सीबीआई ने आरोप-पत्र दाखिल कर दिया। आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप-हत्या की धाराओं के अलावा एससी-एसटी ऐक्ट की धाराएं भी लगाई गई हैं। विदित हो कि मामला एक दलित किशोरी के साथ सामूहिक बलात्कार कर हत्या कर देने के आरोप में चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

सूत्रों कि माने तो मामला 14 सितंबर का बताया जा रहा है। बताते हैं कि गांव के ही संदीप, रवि, रामू व लवकुश पर आरोप है। उन्होंने गांव की एक दलित किशोरी के साथ दुष्कर्म कर गंभीर मारपीट की थी। बताते हैं पीड़िता ने 29 सितंबर को दिल्ली में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया था। उसके बाद यह मामला जब मीडिया में चला तो सोशल मीडिया में भी यह मामला काफी बड़ा हाईलाइट हो गया था। पूरे देश की निगाहें हाथरस के थाना चंदपा क्षेत्र के गांव बूल गढ़ी पर टिक गई थी। शासन और प्रशासन ने भी मामले को काफी गंभीरता से लिया था और मामले को जांच के लिए सीबीआई को सौंप दी थी।

आज 18 दिसंबर 2020 दिन शुक्रवार को सीबीआई ने इस प्रकरण में चारों आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट एससी-एसटी के अलावा आईपीसी की धारा 302, 376 ए और डी व 354 में आरोप-पत्र हाथरस के एससी-एसटी एक्ट स्पेशल न्यायालय में सौंप दी।मामले में आरोपी पक्ष की तरफ से मूजूद रहे अधिवक्ता मुन्ना सिंह पुंडीर व विशंभर सिंह ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया की चारों ही आरोपियों के खिलाफ सीबीआई ने चार्जशीट न्यायालय में सौंप दी है।