हाथरस 04 मई । शहर के शान्ति नर्सिग होम में आज शाम को प्रसव के लिए भर्ती महिला के पति और उसके परिजनों ने जमकर हंगामा किया, नर्सिग होम के डॉक्टर व स्टाफ के साथ अभद्रता की व  कागजात फाड़ डाले। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंच गयी। तहरीर के आधार पर एफआईआर दर्ज हो गयी है ।
मिली जानकारी के अनुसार मैण्डू रोड के महादेव कॉलोनी की एक महिला को उसके पति और ससुर ने आज शाम करीब चार बजे शान्ति नर्सिग होम अस्पताल में भर्ती कराया और कहा कि एक महिला के प्रसव होना है। लिहाजा अस्पताल में इलाज चल रहा था। आज शाम को पति, देवर औैर ससुर ने डॉक्टर दीपिका शर्मा पर जबरन नॉमल डिलेवरी करने का दबाव बनाया। डॉक्टर ने इंकार कर दिया कि अभी नॉमल के हालात नहीं है। परिजनों ने कहा कि वह ले जाना चाहे तो किसी दूसरे अस्पताल जा सकते है। तहरीर के अनुसार महिला के पति,देवर और ससुर ने डॉक्टर के चेम्बर में घुसकर अभद्रता करना औैर जान से मारने की धमकी देना शुरु कर दिया। इतने में ओटी इंचार्ज पंकज कुमार आ गये। उन्होंने लोगों को रोकने की कोशिश की उनसे गाली गलौज शुरु कर दी। पंकज का आरोप है कि महिला के देवर ने अस्पताल की स्टाफ नर्स के साथ भी अभद्रता की। स्टाफ के बाकी लोग आ गये और स्टाफ नर्स को बचा लिया। बाद में महिला के देवर ने कुछ लोगों को फोन करके बुला लिया। कुछ लोग आगरा नंबर की गाड़ी में सवार होकर अस्पताल आ गये। इस वारदात के बाद मौके पर पुलिस पहुंच गयी। बाद में डॉक्टर राजेश गौतम, डॉ दीपिका शर्मा, डॉ सुनील अग्रवाल थाना हाथरस गेट पहुंच गये हुए उक्त लोगों के खिलाफ तहरीर दे दी । हाथरस गेट इंस्पेक्टर जगदीश चंद का कहना है कि तहरीर के आधार पर एफआईआर कुछ लोगों के खिलाफ दर्ज हो गयी है । जांच कर आवश्यक कार्यवाही की जा रही है ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here