हाथरस 24 सितंबर | भारतीय प्रशासनिक सेवा में चयनित अरुण कुमार सिंह ने भारतीय प्रशासनिक सेवा में 554 वीं रैंक प्राप्त की है | 2020 बैच में चयनित अरुण कुमार सिंह मूल रूप से किसान परिवार में जन्मे हैं | उनका परिवार मूल रूप से मथुरा जनपद के गांव शेरनी का है | वर्तमान में वह हाथरस जनपद के अलीगढ़ रोड स्थित आनंद पुरी कॉलोनी में स्थाई रूप से निवास करते हैं | अरुण कुमार सिंह के पिता मनोहर लाल सिह व माताजी श्रीमती सत्यवती सिंह एक शिक्षक है वर्तमान में कम्पोजिट विद्यालय अखेपुर विकासखंड इगलास जनपद अलीगढ़ में प्रधानाध्यापिका के पद पर आसीन हैं। अरुण कुमार सिंह के दादा-दादी जी स्वर्गीय सुंदर लाल सिंह वैद्य एवं स्वर्गीय श्रीमती स्वरूपी देवी मथुरा जनपद के शेरनी गांव के मूल निवासी थे। अरुण कुमार सिंह ने हाईस्कूल की परीक्षा राजेंद्र लोहिया विद्या मंदिर हाथरस तथा इंटरमीडिएट की परीक्षा अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से उत्तीर्ण की है। तथा एनआईटी जयपुर से सिविल इंजीनियरिंग 2017 बैच में पास हैं। सिद्धार्थ गौतम का मार्गदर्शन अरुण कुमार सिंह जी को मिलता रहा है जो वर्तमान में आईआरएस में चयनित हैं । जो अरुण कुमार सिंह के मामा के बेटे हैं ।

पीएससी सिविल सेवा के जरिए इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज (आईएएस), भारतीय पुलिस सर्विसेज (आईपीएस) और भारतीय फॉरेन सर्विसेज (आईएफएस), रेलवे ग्रुप ए (इंडियन रेलवे अकाउंट्स सर्विस) सहित अन्य सेवाओं के लिए चयन किया जाता है। यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा तीन चरणों -प्रारंभिक, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार में आयोजित की जाती है। मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार में प्रदर्शन के आधार पर फाइनल मेरिट लिस्ट जारी होती है।