सिकंदराराऊ 29 जुलाई | कोरोना संक्रमण को लेकर शासन द्वारा सभी सामूहिक कार्यक्रमों एवं पशु पैठ, हाट बाजारों पर प्रतिबंध लगा के बाबजूद नगर में आज हाथरस रोड स्थित पैंठ स्थल पर पैंठ लगाई गई । जिसमें बड़ी संख्या में बकरों की खरीद-फरोख्त हुई। जिससे शासनादेश की धज्जियां उड़ती हुई नजर आई। पैठ में पशुओं की खरीद फरोख्त हेतु लोगों की भीड़ उमड़ी । पशुओं की खरीद फरोख्त करने के दौरान लोगों में कोरोना महामारी को लेकर कोई जागरूकता नजर नहीं आई। बता दें कि कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के चलते शासन द्वारा पशु पैठ एवं हाट पर प्रतिबंध लगाया गया है। नगर में इसके बाबजूद पशु पैठ लगाई गई । ईद का पर्व नजदीक होने के चलते लोग बकरों को खरीदने एवं बेचने को आज हाथरस रोड पर लगने वाली पशु पैठ में भारी संख्या में पहुँचे। जहाँ सामाजिक दूरी पूर्ण रुप से नरारद रही और वहीं लोग बिना मास्क के भी नजर आए। जिससे कोरोना वायरस के बढ़ने का खतरा बढ़ गया है। पैठ लगने की जानकारी होने पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और पेंठ स्थल पर अवैध रूप से बकरों की खरीद-फरोख्त कर रहे लोगों को खदेड़ दिया। पुलिस के जाने के बाद एक बार फिर लोग वहां जमा हो गए।

पैठ मालिक बाबर सिद्दीकी का कहना है कि शासन प्रशासन की गाइड लाइन का पूरी तरह पालन किया जा रहा है जिसके चलते कोरोना संक्रमण के शुरू होने के बाद से आज तक पैठ नहीं लगाई गई है। जो लोग पैठ स्थल पर अवैध रूप से  खरीद-फरोख्त करने के लिए पहुंचे थे। उनकी सूचना पुलिस को दे दी गई थी और पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उन लोगों को भगा दिया। उप जिलाधिकारी विजय कुमार शर्मा ने कहा है कि प्रतिबंध के बावजूद पैठ स्थल पर पशुओं की खरीद-फरोख्त हुई है तो इसकी जांच कराई जाएगी। उन लोगों पर कार्रवाई होगी ।