सिकंदराराऊ 22 मई | पति की दीर्घायु के लिए सुहागिन महिलाओं ने व्रत रखकर वटवृक्ष की पूजा अर्चना की। महिलाओं ने इस पर्व को लॉक डाउन के चलते हुए अपने घरों में ही मनाया। महिलाओं ने पूजन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखा। यह व्रत ज्येष्ठ माह की अमावस्या को ही मनाया जाता है। हिन्दू धर्म की महिलाओं के लिए वट सावित्री व्रत विशेष महत्व रखता है। मान्यता है कि इस व्रत को रखने से पति पर आए संकट दूर होकर उसकी आयु लम्बी हो जाती है। वहीं इस व्रत को रखने से दांपत्य जीवन के कष्ट भी दूर हो जाते है। सुहागिन महिलाएं अपने पति की दीर्घायु एवं सुखद वैवाहिक जीवन की कामना के लिए वट बरगद के पेड़ की पूजा अर्चना करती है। इस बार महिलाओं ने बरगद की टहनी घर पर मंगाकर पूजा अर्चना की और दान कर के पुण्य लाभ कमाया।