आगरा 19 मई | कांग्रेस की ओर से प्रवासी मजदूरों के लिए बसें देने के मामले पर यूपी सरकार की कार्रवाई से नाराज होकर प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के यूपी प्रदेशाध्यक्ष अजय लल्लू को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है | पुलिस ने उन्हें आगरा के पास ही राजस्‍थान बॉर्डर से हिरासत में लिया है | उनके साथ ही मथूरा के पूर्व विधायक प्रदीप माथुर भी हैं | बताया जा रहा है कि उन्हें फतेहपुर सीकरी थाने ले जाया जाएगा | जानकारी के अनुसार उन्हें थाने से ही जमानत मिल सकती है |

अजय लल्लू के हिरासत में आने के साथ ही राजस्‍थान यूपी बॉर्डर पर तनाव की स्थिति है | प्रशासन अब आगे की कार्रवाई पर मंथन कर रहा है | बड़ी संख्या में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के फतेहपुर पहुंचने की भी संभावना जताई जा रही है जिसके चलते पुलिस मुस्तैद हो गई है |गौरतलब है कि अजय सुबह से ही बसों के साथ आगरा के पास खड़े थे | इस दौरान वे लगातार अधिकारियों से कह रहे थे कि आपके उच्चाधिकारियों ने ही हमको बसें पहुंचाने के लिए बोला है | लेकिन यूपी सरकार के अधिकारियों ने जाने की परमिशन नहीं दी | बाद में अजय लल्लू को हिरासत में ले लिया गया |

इस संबंध में आगरा ग्रामीण पश्चिम के एसपी रवि कुमार ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस के अनुसार एक राज्य से दूसरे राज्य में बस लाने के के लिए पास और अनुमति की जरूरत होती है | उनके पास ऐसा कुछ भी नहीं था न ही उन्होंने पास के लिए आवेदन किया था | इसलिए उन्हें राज्य में घुसने की अनुमति नहीं दी गई |

इससे कुछ देर पहले ही कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने इस मसले पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को आड़े हाथ लेते हुए कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने अब हद कर दी है | उन्होंने ट्वटीट कर कहा कि जब राजनीतिक परहेजों को परे करते हुए त्रस्त और असहाय प्रवासी भाई बहनों को मदद करने का मौका मिला तो दुनिया भर की बाधाएँ सामने रख दिए | इसके साथ ही उन्होंने योगी आदित्यनाथ को टैग करते हुए कहा है कि योगी जी चाहें तो इन बसों पर भाजपा का बैरन और पोस्टर लगा कर चला दीजिए | लेकिन हमारे सेवा भाव को मत ठुकराइये | प्रियंका ने कहा कि इस राजनीतिक खिलवाड़ में तीन दिन व्यर्थ हो गए हैं और इन तीन दिनों में हमारे देश की जनता सड़कों पर चलते हुए दम तोड़ रही है |