मुंबई 17 अप्रैल | देश में कोरोना वायरस लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाए जाने के बाद बीसीसीआई ने कल आईपीएल 2020 को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया है । इस बीच बीसीसीआई को आईपीएल 2020 को श्रीलंका में आयोजित करने का प्रस्ताव मिला है। श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष शम्मी सिल्वा ने यह प्रस्ताव भेजते हुए कहा कि उनका बोर्ड बीसीसीआई को आईपीएल 2020 आयोजिन करने के लिए पूरी सुविधाएं उपलब्ध कराने को तैयार हैं। श्रीलंका में कोरोना वायरस के बहुत कम मामले सामने आए हैं और यहां इससे सिर्फ 7 लोगों की जान गई है।

भारत में कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन की अवधि बढ़ाए जाने के बाद बीसीसीआई ने कल आधिकारिक रूप से अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया। बीसीसीआई सचिव जय शाह ने प्रेस रिलीज में कहा कि खिलाड़ियों और लोगों की सेहत सर्वोपरि है। बीसीसीआई, फ्रेंचाइजी मालिकों, प्रसारकों, प्रायोजकों और सभी संबंधित पक्षों ने मिलकर यह फैसला लिया है कि जब हालात सुरक्षित होंगे, तभी आईपीएल का यह सत्र खेला जाएगा। हम हालात की समीक्षा करते रहेंगे।

इसके तुरंत बाद बोर्ड अध्यक्ष शम्मी सिल्वा ने आईपीएल 2020 को श्रीलंका में आयोजित करने का प्रस्ताव रखा। उन्होंने कहा, यदि आईपीएल 2020 रद्द हुआ तो इससे बीसीसीआई और इसके शेयरधारकों को हजारों करोड़ रुपए का नुकसान होगा। इसके चलते बीसीसीआई के लिए इसे रद्द करने की बजाए दूसरे देश में आयोजित करना लाभकारी होगा जैसा उन्होंने 2009 में इसे दक्षिण अफ्रीका में आयोजित किया था।

उन्होंने कहा, यदि इस मामले में हमें बीसीसीआई से ग्रीन सिग्नल मिलता है तो हम उसे सारी सुविधाएं उपलब्ध कराने को तैयार हैं। श्रीलंका स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में सारी व्यवस्था होगी। शम्मी सिल्वा ने लंकादीप अखबार को दिए इंटरव्यू में कहा, ऐसा लगता है कि भारत से पहले श्रीलंका में कोरोना पूरी तरह खत्म हो जाएगा। हम आईपीएल 2020 को आयोजित करने के लिए तैयार है।

बीसीसीआई के लिए राह आसान नहीं:

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने भले ही आईपीएल 2020 को आयोजित करने का प्रस्ताव रखा है लेकिन बीसीसीआई के लिए अभी इसे स्वीकारना आसान नहीं होगा। बीसीसीआई कोरोना वायरस महामारी के चलते खिलाड़ियों और लोगों की जान को खतरे में नहीं डालना चाहेगा। अभी तो कई देशों में यात्रा प्रतिबंध भी लगा है ऐसे में खिलाड़ियों की उपलब्धता मुश्किल होगी। स्थितियां सुधरने के बाद ही इस पर कुछ फैसला हो पाएगा।