सासनी 31 मार्च । ग्राम पंचायत विजाहरी के माजरा नया बिजली घर क्षेत्र स्थित मजिस्द में दूसरे राज्यों से आए जमाती पाए गए है। जिससे पुलिस प्रशासन में हड़कप मच गया है। हालांकि पुलिस प्रशासन कोरोना वायरस के मद्देनजर आठों जमातियों को अपने साथ ले आई है। और इन्हे केएल जैन के क्वारंटीन होम में भर्ती कराया गया है। दरअसल दिल्ली में धारा 144 के बाद भी धार्मिक जलसे में दो हजार लोगों की भीड़ से सनसनी फैल गई थी। जिनमें से करीब साढे तीन सौ लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया था। जिनमें से बीस लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि के बाद दिल्ली प्रशासन हिल गया था। इसी को ध्यान में रखते हुए पुलिस प्रशासन ने जगह जगह बनी मस्जिद एवं दरगाह में जमातियों की तलाश शुरू कर दी। आज दोपहर पुलिस प्रशासन ने बिजलीघर में स्थित मजिस्द में से आठ जमाती पकडे है। जो पश्चिमी बंगाल एवं झारखंड के अलावा एक जमाती क्षेत्र का पाया गया है। जिनके नाम क्रमश एस के अंसार पुत्र कीबिया निवासी फुल वेरिया थाना रघुनाथपुर पुरलिया पं बंगाल , शेख मुस्ताक पुत्र शेख फरीद निवासी फुल वेरिया रघुनाथपुर पं बंगाल , एसके किताबुल पुत्र एसके अमजद निवासी फुलवेरिया या थाना रघुनाथपुर पुरलिया पं बंगाल , शेख ताहिर हुसैन पुत्र शेख इदरीश निवासी जिमयानी थाना सलेमपुर जिला बर्ध्दमान पं बंगाल , अब्दुल हमीद पुत्र मर मोहम्मद उस्मान निवासी नावादी थाना कर्माताल विद्या सागर जिला जनताडा झारखण्ड , हबीब अंसारी पुत्र मोहम्मद सद्दीक निवासी जामताड़ा थाना जामताड़ा जिला जामताड़ा झारखण्ड , अब्दुल कादिर पुत्र सलीम महर निवासी नबाडी थाना कामताल जिला जामताड़ा झारखंड एवं फरियाद खां पुत्र सुखपाल खां निवासी निनामई थाना सासनी है। इन सभी को पुलिस ने क्वारंटीन होम में भर्ती कराया है। इनकी पहचान सुनिश्चित की जा रही है।