सासनी 26 मार्च । लॉक डाउन की घोषणा के बाद खाद्य सामग्री की कालाबाजारी का सिलसिला बढ़ता ही जा रहा है। कस्बा एवं आसपास के व्यापारी जमकर चांदी काट रहे है। उपभोक्ताओं का जमकर शोषण उत्पीडन हो रहा है। लेकिन प्रशासन आंख मूंदकर बैठा है। दरअसल शासन द्वारा लॉक डाउन की घोषणा के बाद खाद्य सामग्री के दामों में निरंतर बढ़ोत्तरी हो रही है। रोज मर्रा की चीजे जैसे आटा , सब्जी , दाल , चीनी , चाय एवं खाने पीने की अन्य वस्तुओ को कस्बा के व्यापारी मनमानी दामों पर बेच रहे है। उपभोक्ता इन चीजों को काला बाजारी में खरीदने को मजबूर है। हालांकि इसी तरह कस्बा में शराब के ठेके बंद है। लेकिन काला बाजारी में शराब की बिक्री अवैध रूप से जम कर हो रही है। पुलिस ने ठेको के इधर उधर एकत्रित लोगों को लठिया कर दौड़ाया। एसडीएम हरीशंकर यादव का कहना है कि शिकायत मिलने पर काला बाजारी करने लोगों के खिलाफ सख्त कारवाई की जाएगी। इस तरह की काला बाजारी के संबंध में कोई शिकायत प्राप्त नहीं हुई है।