बुलंदशहर 22 फरवरी । बीती एक फरवरी को गाजियाबाद जिले के मुरादनगर थाना क्षेत्र स्थित डिडौली पुल पर बेकाबू होकर नहर में समायी कार में सवार युवक व युवती के शव पुलिस ने सिकंदराबाद क्षेत्र की सनौटा नहर से गुरुवार शाम बरामद किया। मृतक की पहचान मुजफ्फरनगर निवासी हिमांशु के रूप में, जबकि युवती की पहचान देहरादून जिले के शिमला बाईपास सेवला कलां हिमज्योति एनक्लेव पटेल नगर निवासी कनिका बिंदल के रूप में हुई। परिजनों ने दोनों की शिनाख्त की।
पुलिस ने गुरुवार की देर शाम युवक के शव को सनौटा नहर से निकाला। युवक की जेब में मिले कागजात से उसकी पहचान मुजफ्फरनगर निवासी हिमांशु के रूप में हुई। जानकारी मिलने पर मुजफ्फनगर नई मंडी के राधिकापुरम, बचन सिंह कालोनी निवासी सुखवीर सिंह परिजनों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और शव की पहचान की। सुखवीर सिंह ने बताया कि एक फरवरी की रात उनका बेटा हिमांशु एसयूवी कार से अपने दोस्त निशांत, अनमोल, हर्षित, कनिका व सृष्टि के साथ देहरादून से दिल्ली जा रहा था। इसी दौरान डिडौली पुल के पास गाड़ी बेकाबू होकर नहर में गिर गई। अनमोल व हर्षित तैर कर नहर से बाहर निकल आए थे, जबकि उनका बेटा हिमांशु, निशांत, कनिका व सृष्टि पानी के तेज बहाव में बह गए थे। करीब आठ दिन बाद पुलिस ने निशांत व सृष्टि के शव नहर से बरामद कर लिए गए, लेकिन हिमांशु व कनिका का पता नहीं चल सका।
उधर,  हिमांशु का शव मिलने के बाद पुलिस ने एक बार फिर नहर में कनिका के शव की तलाश शुरू कर दी और रात में ही युवती का शव भी बरामद कर लिया। पुलिस ने दोनों शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सुखवीर सिंह ने बताया कि कनिका बिंदल पुत्री राजकुमार बिंदल निवासी शिमला बाईपास सेवला कलां हिम ज्योति इंक्लेव पटेल नगर देहरादून की रहने वाली थी। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक दिलीप सिंह ने बताया कि युवक व युवती के शवों की शिनाख्त हो गई है। दोनों के शवों को उनके परिजनों को सौंप दिया गया है ।