फीफा वर्ल्ड कप के तीसरे दिन ही बड़ा उलटफेर देखने को मिला है। खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही अर्जेंटीना की टीम को वर्ल्ड रैंकिंग में 49वें नंबर की टीम सऊदी अरब ने 2-1 से हरा दिया। इस हार के साथ अर्जेंटीना की आगे की राह मुश्किल हो गई। अब अर्जेंटीना का 27 नवंबर को मैक्सिको और 30 नवंबर को पोलैंड से है। इस हार के साथ अर्जेंटीना की टीम ग्रुप सी में आखिरी स्थान पर पहुंच गई है।

मेसी भी नहीं जिता पाए अर्जेंटीना को

10वें मिनट में कप्तान लियोनल मेसी के गोल से बढ़त लेने के बावजूद टीम मैच नहीं जीत सकी। सऊदी अरब के लिए सालेह अलसेहरी ने 48वें और 53वें मिनट में सालेम अलडावसारी ने गोल किया। इसके बाद दोनों में से कोई टीम गोल नहीं कर सकी।

सऊदी अरब के गोलकीपर ने शानदार प्रदर्शन किया
आखिरी कुछ मिनटों में सऊदी अरब के गोलकीपर एम.अल ओवैस ने शानदार प्रदर्शन किया और उन्होंने कई गोल बचाए। अर्जेंटीना की टीम ने शुरुआती कुछ मिनटों पर तीन गोल किए, लेकिन यह सभी ऑफसाइड रहे। अर्जेंटीना की टीम को ऑफसाइड ले डूबी। इस हार के साथ अर्जेंटीना के लगातार 36 मैचों में जीत का क्रम टूट गया। इस दौरान वह 25 मैच जीता था और 11 ड्रॉ हुए थे।

 

अर्जेंटीना को अगले दोनों मैच जीतने होंगे

1974 के बाद पहली बार अर्जेंटीना ने अपने पहले मैच में दो गोल खाए हैं। तब उसे पोलैंड के खिलाफ 2-3 से हार मिली थी। सऊदी अरब की विश्व कप इतिहास में यह सिर्फ तीसरी जीत है। अर्जेंटीना को प्री-क्वार्टरफाइनल में पहुंचने के लिए अब अपने बाकी बचे दोनों मैचों में जीत हासिल करनी ही होगी।

 

क्या हुआ मैच में?

अर्जेंटीना की टीम 4-4-2 के फॉर्मेशन से मैदान पर उतरी थी। वहीं, सऊदी अरब की टीम 4-1-4-1 के फॉर्मेशन से मैदान पर उतरी थी। शरुआती कुछ मिनटों में अर्जेंटीना की टीम हावी रही। सऊदी अरब ने अपने बॉक्स में फाउल किया, जिसपर रेफरी ने पेनल्टी का इनाम दिया। मेसी ने पेनल्टी पर गोल किया। इसके बाद हाफ-टाइम तक स्कोर अर्जेंटीना के पक्ष में रहा। टीम ने 1-0 की बढ़त बना रखी थी। दूसरे हाफ में सऊदी अरब की टीम हावी रही। अल शेहरी और अल दॉसरी ने दो गोल दागे और सऊदी अरब को 2-1 से आगे कर दिया।

मैच के आंकड़ेमैच के स्टैट्स की बात करें तो बॉल पजेशन में अर्जेंटीना की टीम काफी आगे रही। अर्जेंटीना के पास 70 प्रतिशत बॉल पजेशन रहा। वहीं, सऊदी अरब के पास 30 प्रतिशत बॉल पजेशन रहा। अर्जेंटीना की टीम ने 15 शॉट अटेम्प्ट किए। इसमें से छह ऑन टारगेट रहा। पांच मौकों पर सऊदी अरब के गोलकीपर ने बचा लिया। वहीं, सऊदी अरब ने तीन गोल अटेम्प्ट किए। इसमें से दो ऑन टारगेट रहा और इन दोनों मौकों पर सऊदी अरब ने गोल दागा।