Hamara Hathras

12/07/2024 10:14 am

Latest News

हाथरस 05 जुलाई।  दिल्ली से अलीगढ होते हुए राहुल गाँधी अब से कुछ देर पहले हाथरस पहुंचे। जहां उन्होंने आगरा रोड विभव नगर नबीपुर खुर्द स्थित ग्रीन पार्क पहुंचकर सिकंद्राराऊ में हुए सत्संग के दौरान भगदड़ में मारे गए हादसे के शिकार लोगों से मुलाकात की। उन्होंने आशा देवी, मुन्नी देवी, ओमवती के परिवार से मुलाकात की परिवारों से मुलाकात के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि वह संसद में इस मामले को उठाएंगे। शोक संतप्त परिवारों से मिलने के बाद कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा, “दुख की बात है। बहुत परिवारों को नुकसान हुआ है, काफी लोगों की मृत्यु हुई है..प्रशासन की कमी तो है और गलतियां हुई हैं…मुआवज़ा सही मिलना चाहिए…मैं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से विनती करता हूं कि दिल खोलकर मुआवजा दें…मुआवज़ा जल्दी से जल्दी देना चाहिए…परिवारवालों से मेरी बातचीत हुई है। इस मुलाकात के दौरान कांग्रेस के स्थानीय पदाधिकारी व कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहे। कांग्रेस सांसद और लोकसभा में विपक्ष के नेता राहुल गांधी 2 जुलाई को हुई भगदड़ के पीड़ितों से मिलने के बाद हाथरस से रवाना हो गए। पुलिस परिवारों से मुलाकात के बाद राहुल गांधी दिल्ली के लिए रवाना हो गए। आपको बता दें भगदड़ में हाथरस के 19 लोगों की जान गई है, जिनमें शहर के नबीपुर निवासी मुन्नी देवी पत्नी लक्ष्मी नारायण और आशा देवी पत्नी नारायण सिंह निवासी नबीपुर खुर्द की दर्दनाक मौत हो गई है।

इससे पहले दिल्ली से सड़क मार्ग द्वारा होते हुए राहुल गांधी अलीगढ़ जनपद के अकराबाद के गांव पिलखना पहुंचे। जहां राम राहुल गांधी ने हाथरस सत्संग के दौरान भगदड़ में मारे गए परिवारों से मुलाकात की, जिनमें मंजू पत्नी छोटेलाल, पंकज पुत्र छोटेलाल, प्रेमवती और शांति देवी पत्नी विजय सिंह से मुलाकात की और पीड़ित परिवारों से मिलकर उनका दुख दर्द बांटा। उन्होंने परिवारों से कहा कि उनके साथ कांग्रेस पार्टी खड़ी हुई है। वही इस मामले में पुलिस ने आयोजन समिति से जुड़े 6 लोगों को अब तक गिरफ्तार कर चुकी है और मुख्य आयोजक-मुख्य सेवादार की गिरफ्तारी पर एक लाख रुपए के इनाम की घोषणा भी की है। अलीगढ़ के आईजी सलाम माथुर ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान इसकी जानकारी की। गिरफ्तार लोगों ने बताया है कि बाबा के चरण रज लेने से काफी कष्ट दूर हो जाते हैं। गिरफ्तार लोगों ने बताया कि सेवादार के रूप में कार्य करते हैं, समिति के अध्यक्ष व सदस्य हैं। विवेचना में अगर बाबा का नाम आता है तो उस बिंदु पर कारवाई होगी। जरूरत पड़ने पर बाबा से पूछताछ की जाएगी। इस घटना के बाद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम बृजेश पाठक, राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा, बसपा के प्रदेश अध्यक्ष विश्वनाथ आर्य, यूपी के कैबिनेट मंत्री धर्मवीर प्रजापति सहित समाजवादी पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने भी पीड़ित परिवारों से मुलाकात की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

You cannot copy content of this page