Hamara Hathras

13/06/2024 3:23 pm

नई दिल्ली 05 जून। लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद केंद्र में नई सरकार के गठन की तैयारियां शुरू हो गई हैं। ताजा खबर यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। राष्ट्रपति ने इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। इसके साथ ही 17वीं लोकसभा भंग हो गई है। राष्ट्रपति ने नई सरकार के गठन तक मोदी व कैबिनेट को पद पर बने रहने के लिए कहा है।

एनडीए ने सर्वसम्मति से नरेंद्र मोदी को नेता चुना

एनडीए नेताओं द्वारा पारित प्रस्ताव में सर्वसम्मानित से नरेंद्र मोदी को अपना नेता चुना।

एनडीए की बैठक में शामिल रहे ये नेता

एनडीए की बैठक में चंद्रबाबू नायडू, नीतीश कुमार, एकनाथ शिंदे, जीतन राम मांझी, पवन कल्याण, अनुप्रिया पटेल, प्रफुल पटेल, चिराग पासवान, कुमारस्वामी और जयंत चौधरी मौजूर रहे।

नरेंद्र मोदी के साथ एनडीए नेताओं की बैठक खत्म

पीएम नरेंद्र मोदी के साथ एनडीए नेताओं की बैठक खत्म हो गई। प्रधानमंत्री मोदी सहयोगियों के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे।

पीएम आवास पहुंचे नेता, बैठक शुरू

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सरकारी आवास पर नीतीश कुमार, चंद्रबाबू नायडू, जीतनराम मांझी समेत बाकी नेता पहुंच गए हैं। नई सरकार के गठन के लिए एनडीए की बैठक शुरू हो गई है। अब पीएम मोदी नई सरकार के गठन का दावा पेश करेंगे। 8 जून को नई सरकार का शपथ ग्रहण हो सकता है। इससे पहले बुधवार को दिल्ली में मोदी कैबिनेट की आखिरी बैठक हुई। बैठक में धन्यवाद प्रस्ताव पास हुआ। सभी सदस्यों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लगातार तीसरी जीत के लिए बधाई दी। अब पीएम आवास पर NDA घटक दलों की बैठक होगी, जिसमें नई सरकार के गठन के लिए मंथन किया जाएगा। एनडीए की बैठक में हिस्सा लेने के लिए नीतीश कुमार, चंद्रबाबू नायडू, जीतन राम मांझी, चिराग पासवान और एकनाथ शिंदे समेत अन्य नेता दिल्ली पहुंच गए हैं।

बिना शर्त समर्थन की चिट्ठी देने को तैयार JDU

जदयू से सीनियर नेता और प्रवक्ता केसी त्यागी ने साफ कर दिया है कि उनकी पार्टी बिना किसी शर्त के केंद्र में सरकार बनाने और नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनाने के लिए समर्थन की चिट्ठी देने को तैयार है। हालांकि त्यागी ने यह इच्छा जरूर जताई कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिया जाना चाहिए। केसी त्यागी ने कहा, नीतीश कुमार एनडीए की बैठक में हिस्सा लेने जा रहे हैं। हम पूरी तरह से एनडीए के साथ हैं। अब कहीं और जाने का सवाल नहीं।विपक्ष और कांग्रेस की ओर से मिल रहे प्रस्तावों (डिप्टी पीएम बनाने से लेकर बिहार को विशेष राज्य का दर्ज देने तक) पर त्यागी ने कहा कि मल्लिकार्जुन खरगे ने यह बड़ा दिल पहले दिखाया होता तो आज यह नौबत नहीं आती।

क्या हुआ जब विमान में हुई नीतीश-तेजस्वी की मुलाकात

पटना से दिल्ली आने वाली फ्लाइट में नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव की मुलाकात हुई। नीतीश जब अपनी सीट पर पहुंचे, तो पीछे वाली सीट पर तेजस्वी पहले से बैठे हुए थे। नीतीश को देखकर तेजस्वी खड़े हुए और नमस्कार किया। नीतीश ने भी नमस्कार किया और पैर की चोट के बारे में पूछा।इसके बाद नीतीश भी अपनी सीट पर बैठ गए। मीडिया ने प्रतिक्रिया चाही, तो दोनों नेताओं ने हाथ जोड़ते हुए इनकार कर दिया।भाजपा खेमे से खबर है कि नीतीश कुमार और चंद्रबाबू नायडू से समर्थन की चिट्ठी मिलने के बाद ही भाजपा सरकार बनाने का दावा पेश करेगी।

राष्ट्रपति देंगे सरकार को विदाई

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आज मोदी सरकार 2.0 को विदाई देंगी। इसके लिए भोज का आयोजन किया गया है। बता दें, लोकसभा चुनाव 2024 में किसी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। 241 सीट जीतकर भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनी है। हालांकि वह लोकसभा की कुल 543 सीटों में से बहुमत के लायक 272 सीट से पीछे है।एनडीए के घटक दलों को मिला लिया जाए तो कुल संख्या 294 हो रही है। यानी बहुमत से 22 ज्यादा। वहीं विपक्ष दलों के गठबंधन आइएनडीआइए को 232 सीटें मिली हैं। वहां भी सरकार बनाने की संभावनाएं टटौली जा रही हैं। आइएनडीआइए के नेताओं का मानना है कि यदि नीतीश कुमार और चंद्रबाबू नायडू पाला बदल लेते हैं, तो मोदी को तीसरी बार पीएम बनने से रोका जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts