Hamara Hathras

16/05/2024 12:57 pm

Latest News

नई दिल्ली 02 अप्रैल । लोकसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दलों ने अपनी ताकत झोंक दी है। बीजेपी ने रायबरेली और कैसरगंज लोकसभा सीट से उम्मीदवार की घोषणा कर दी है। भारतीय जनता पार्टी ने कैसरगंज विधानसभा लोकसभा सीट से मौजूदा सांसद बृजभूषण शरण सिंह का टिकट काट दिया है। बृजभूषण की जगह बीजेपी ने करण भूषण सिंह को टिकट दिया है। करण भूषण बृजभूषण के छोटे बेटे हैं। इसके साथ ही भाजपा ने कांग्रेस के गढ़ से भी उम्मीदवार की घोषणा कर दी है। भारतीय जनता पार्टी ने कभी गांधी परिवार के खासम खास रहे मौजूदा समय में योगी सरकार के मंत्री दिनेश प्रताप सिंह को उम्मीदवार बना दिया है।

दिनेश प्रताप सिंह के परिवार का दबदबा इस क्षेत्र में रहा है। दिनेश प्रताप सिंह साल 2018 में कांग्रेस का हाथ छोड़कर भाजपा के साथ गए थे। रायबरेली से गांधी परिवार के सदस्य चुनकर संसद पहुंचते रहे हैं। इस बार कांग्रेस के मन में रायबरेली को लेकर असमंजस की स्थिति है। 3 अप्रैल (कल) को रायबरेली सीट के लिए नामांकन का आखिरी दिन है, लेकिन अभी तक कांग्रेस ने इस सीट पर प्रत्याशी घोषित नहीं किया है। रायबरेली से कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी सांसद हैं। उन्होंने इस बार चुनाव लड़ने से साफ मना कर दिया है। वह राजस्थान से राज्यसभा के जरिए संसद पहुंच गई हैं। कांग्रेस ने रायबरेली से प्रत्याशी घोषित नहीं किया है, लेकिन भाजपा ने प्रत्याशी घोषित कर इस चुनाव को दिलचस्प बना दिया है। हम आपको भाजपा प्रत्याशी दिनेश प्रताप सिंह के बारे में बताते हैं।

वहीं लगातार यह चर्चा चल रही थी कि इस बार भारतीय जनता पार्टी कैसरगंज लोकसभा सीट से सांसद बृजभूषण शरण सिंह का टिकट काट सकती है। जिस तरीके से महिला पहलवानों ने बृजभूषण शरण सिंह पर गंभीर आरोप लगाए थे। उसको लेकर तमाम तरह की चर्चाएं भी लगातार चल रही थी। वहीं बृहस्पतिवार को सुबह से यह चर्चा चल रही थी कि बीजेपी ने बृजभूषण शरण सिंह के बेटे करण भूषण सिंह को टिकट दे दिया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts