हाथरस 12 फरवरी । नगर की प्रमुख सामाजिक संस्था ADHR के राष्ट्रीय महासचिव प्रवीन वार्ष्णेय के बड़े भाई का आज आकस्मिक निधन हो गया, जिसकी जानकारी मिलते ही नगर में शोक की लहर दौड़ गई। मिली जानकारी के अनुसार समाजसेवी व ADHR के राष्ट्रीय महासचिव प्रवीन वार्ष्णेय के बड़े भाई और डेकोरेट एवं कैटरिंग कारोबारी जितेंद्र कुमार वार्ष्णेय की गत गुरुवार को अचानक तबियत बिगड़ गई, जिसके बाद परिजन उन्हें नगर के एक निजी अस्पताल ले गए, जहां उपचार के दौरान आज उनका निधन हो गया। 54 वर्षीय जितेंद्र कुमार वार्ष्णेय अपने पीछे पत्नी व तीन पुत्रों सहित पूरे परिवार को रोते-बिलखते हुए छोड़कर चले गए हैं। उनके निधन का समाचार मिलते ही नगर के सामाजिक संगठनों व बुद्धिजीवियों में शोक की लहर दौड़ गई। धार्मिक रीति-रिवाज से आज शाम इगलास अड्डा स्थित पत्थर वाली शमशान भूमि पर उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया। हमारा हाथरस श्री जितेंद्र कुमार वार्ष्णेय जी के आकस्मिक निधन पर गहरा शोक व्यक्त करता है व ईश्वर से प्रार्थना करता है कि वह उन्हें अपने श्री चरणों में स्थान दें।