हाथरस 05 सितम्बर | श्री रामेश्वरदास अग्रवाल कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय में आजादी के 75वें वर्ष के उपलक्ष्य में मनाए जा रहे अमृत महोत्सव के अंतर्गत आज सांस्कृतिक समिति प्रभारी डॉ लीना चौहान तथा शिक्षाशास्त्र की विभागाध्यक्षा डॉ० रंजना गुप्ता के निर्देशन में शिक्षक दिवस समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ प्राचार्या इंदु वार्ष्णेयए, डॉ० लीना चौहान, डॉ० नगमा यासमीन, डॉ सुषमा यादव, डॉ रंजना गुप्ता तथा वरिष्ठ शिक्षकों द्वारा मां सरस्वती की प्रतिमा पर दीप प्रज्वलित कर तथा सर्वपल्ली राधाकृष्णन के छवि चित्र पर माल्यार्पण करके किया गया। आज के समारोह में शिक्षकों तथा छात्राओं द्वारा रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए, जिसके अंतर्गत डॉ निम्मी द्वारा सरस्वती मां की स्तुति की गई तत्पश्चात् कु० नाहिद बी तथा डॉ० रेनू द्वारा शिक्षक दिवस पर अपने विचार प्रस्तुत किए गए, डॉ० रंजना सिंह तथा अतिमा भारद्वाज ने आने वाला पल गाने को गाकर सभी को भाव विभोर कर दिया, वहीं कु० प्रियंका सरोज तथा कु० रेशमा देवी ने काव्य पाठ प्रस्तुत कर खूब तालियां बटोरी।

छात्राओं की प्रस्तुति ने सभी का मन मोह लिया। तत्पश्चात अमृत महोत्सव तथा मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत मेजर ध्यानचंद की स्मृति में दिनांक 29 अगस्त – 5 सितम्बर मनाए जा रहे खेल सप्ताह के अंतर्गत आज समापन दिवस पर सांस्कृतिक समितिए एनएसएसए रेंजर्स समिति तथा शारीरिक शिक्षा विभाग द्वारा महाविद्यालय में विगत एक सप्ताह से आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में सभी प्रतिभागियों को पुरस्कार वितरण किए गए। आज के कार्यक्रम में डॉ० अंजू आर्य, डॉ० मधुए रंजना प्रकाश तथा अमृता सिंह का विशेष योगदान रहा। महाविद्यालय में आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत सात दिवसीय ;दिनांक 1 सितम्बर – 7 सितम्बर पोषण सप्ताह का शुभारंभ किया गयाए जिसके अंतर्गत आज दिनांक 5 सितम्बर को गृह विज्ञान विभाग की विभागाध्यक्षा डॉ० नगमा यासमीन के निर्देशन में पाक कला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमे छात्राओं द्वारा विभिन्न प्रकार के व्यंजनों को स्वयं बनाकर निर्णायक मंडल के समक्ष प्रस्तुत किया गया। निर्णायक मंडल ; डॉ० मधुए डॉ० कुसुमलता शर्मा तथा डॉ० शालिनी शर्मा द्वारा कु० तनुजा अस्थाना को प्रथम, कु० खुशी रावत द्वितीय स्थान तथा कु० तोषी वार्ष्णेय व कु० शिखा सागर को संयुक्त रूप से तृतीय स्थान पर घोषित किया गया। आज की प्रतियोगिता में डॉ० रंजना सिंह तथा अतिमा भारद्वाज का विशेष योगदान रहा। आज आयोजित कार्यक्रमों में समस्त शिक्षकए शिक्षणेत्तर कर्मचारी तथा छात्राएं उपस्थित रहीं ।