हाथरस 31 अगस्त | एम्बुलेंस कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने हमारा हाथरस को बताया है कि उत्तर प्रदेश में संचालित 108 व 102 एंबुलेंस के संचालन में बहुत बड़ा घोटाला UP की एम्बुलेंस सेवा प्रदाता कंपनी जीवीकेईएमआरआई द्वारा किया गया, सरकार के उपमुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक के द्वारा जांच के आदेश दिए गए थे 2 माह बीत जाने के बाद भी अभी तक जांच रिपोर्ट जनपद स्तर से नहीं भेजी गई, फिर एक बार पुनः कड़े शब्दों में जांच की रिपोर्ट भेजे जाने के लिए मंत्री जी के द्वारा आदेश दिया गया और विभाग के कई प्रमुख शीर्ष अधिकारियों द्वारा लेटर जारी किया गया | 5 दिवस के अंदर हर हाल में रिपोर्ट मांगी गई है विषय यह बनता है, आखिर इस रिपोर्ट को शासन को भेजे जाने में हीला हवाली क्यों हो रही है इससे साफ प्रतीत होता है कि उत्तर प्रदेश में प्रत्येक जनपदों में व्यापक तौर पर बहुत भ्रष्टाचार है | जिस को दबाने का प्रयास किया जा रहा है लेकिन मंत्री जी के द्वारा पुनः दिनांक 26 अगस्त को स्वास्थ्य विभाग के शीर्ष आला अधिकारियों को कड़ाई से आदेशित किया गया है | एम्बुलेंस कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने एंबुलेंस में हो रहे व्यापक स्तर के घोटाले करने वाले भ्रष्टाचारियों पर कड़ी कार्यवाही करने की मांग सरकार से  है