सिकन्द्रारारु (हसायन) 31 जुलाई । कोतवाली क्षेत्र की सलेमपुर पुलिस चौकी क्षेत्र के हसायन नगला रति मार्ग पर स्थित गांव धुबई नगला डांडा मोड के निकट दो बुलैट सवार युवकों ने मोपेड पर बैट्रा लेकर हसायन के लिए जा रहे मोपेड सवार युवक को रोककर फाइनेंस के नाम पर जांच का बहाना बनाकर मोपेड लूटने का प्रयास किया। युवक के किसी परिचित के आने व डायल 112 पुलिस टीम के आते ही बुलैट सवार युवकों के द्वारा तेज रफ्तार के साथ बिना मोपेड को लूटे ही बुलेट लेकर रफूचक्कर हो गए। बुलैट सवार युवकों के फरार होने के दौरान पीड़ित युवक ने अपने स्वजन चाचा को घटना की जानकारी दी। घटना की जानकारी होने पर पीड़ित युवक के चाचा ने गांव बस्तोई के ग्रामीणों को जानकारी दिए जाने के दौरान ग्रामीणों ने उक्त बुलैट सवार युवकों को रोककर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस के द्वारा उक्त बुलैट सवार युवकों को फाइनेंस के नाम पर छानबीन किए जाने के लिए मोपेड रोके जाने की बात कहे जाने पर युवकों को छोड दिया। जबकि सलेमपुर पुलिस चौकी प्रभारी का कहना है कि लूट की घटना के प्रयास का कोई मामला नही है। दोनों युवक नगला डांडा से पैसे लेकर जा रहे थे। इसी दौरान साइकिल में टक्कर लगने से भागने पर युवकों को ग्रामीणों ने पकड लिया था।युवकों के विषय में जानकारी जुटाने के दौरान दोनों युवक क्षेत्र के एक गांव के निवासी निकले। टक्कर होने के दौरान बदहवास की स्थिति में बुलैट से भागने पर पकड लिए थे।लोकेश कुमार कश्यप पुत्र अशोक कुमार कश्यप निवासी नगला बदलू(नगला रति) रविवार को अपने गांव नगला बदलू से कस्बा हसायन में पंडित दीनदयाल उपाध्याय तिराहे पर संचालित अपने पिता अशोक कुमार कश्यप की इनवर्टर बैट्रा की दुकान के लिए मोपेड (बिक्की) पर दो बैट्र रखकर ले जा रहा था। जैसे ही वह नगला रति रेलवे क्रासिंग से करीब एक किलोमीटर की दूरी पर स्थित नगला डांडा धुबई मोड पर पहुंचा।तभी दो बुलैट सवार युवकों के द्वारा मोपेड सवार युवक लोकेश कुमार की मोपेड को रूकवाने के दौरान मोपेड पर फाइनेंस बकाया होने की बात कहते हुए लोकेश कुमार से मोपेड छीनने का प्रयास करने लगे। तभी उस दौरान लोकेश कुमार का कोई मिलने वाले व्यक्ति व डायल 112पीआरवी के आने के दौरान उक्त बुलैट सवार युवक तेज रफ्तार से नगला रति तिराहा होते हुए सिकंदराराऊ की ओर भाग निकले। लोकेश कुमार ने घटना की जानकारी अपने चाचा राकेश कुमार को देते हुए बुलैट सवार युवकों के द्वारा मोपेड लूटने का प्रयास किए जाने की जानकारी दी। तो लोकेश कुमार के चाचा ने उक्त बुलेट सवार युवकों को रोकने का प्रयास किया। तो बुलैट सवार युवकों के द्वारा अपनी बुलैट को कतई नही रोका गया तो लोकेश कुमार के चाचा ने बस्तोई के ग्रामीणों को बुलेट सवार युवकों को रोकने की बात कहते हुए घटना की जानकारी दी। इस दौरान उन्होंने पुलिस कर्मियों को भी अवगत करा दिया। बस्तोई के ग्रामीणों ने बस्तोई के राजवाहे के पुल पर मानव श्रंखला बनाकर बुलेट सवार युवकों को रोककर सलेमपुर पुलिस पर तैनात पुलिस कर्मियों के सुपुर्द कर दिया। घटना के संबंध में लोकेश कुमार के पिता अशोक कुमार के द्वारा पुत्र से मोपेड लूट का प्रयास किए जाने का आरोप लगाते हुए घटना के संबंध में कार्रवाई किए जाने की मांग को लेकर तहरीर दी।लोकेश कुमार के पिता अशोक कुमार ने बताया कि पुलिस ने उक्त पकडे गए दोनों युवकों के खिलाफ कार्रवाई के लिए दी गई तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज करने के बजाए पचडे मे नही पडने की बात कहकर उन्हें टहला दिया। इस संबंध में सलेमपुर औद्योगिक क्षेत्र में स्थापित पुलिस चौकी पर तैनात प्रभारी अमित कुमार सिंह ने बताया कि बुलेट सवार युवक लुटेरे नही होने के कारण जांच के दौरान पता चला है कि एक युवक नगला डांडा में दूध कढाने खरीदने का कार्य करता है। युवकों की बुलैट टकराने के दौरान लूट के प्रयास का शोर किए जाने के दौरान बुलैट सवारों को ग्रामीणों ने पकड लिया था। मगर लूटपाट से उक्त युवकों का कोई संबंध नहीं होने पर रूपए देने सिकंदराराऊ जा रहे युवकों को छोड दिया गया। जबकि कोतवाली प्रभारी शिवकुमार शर्मा ने बताया कि लूटपाट के प्रयास का कोई मामला नहीं था। बुलैट सवार युवकों के द्वारा फाइनेंस कंपनी में कार्य किया जाता है। उक्त युवकों के द्वारा नगला रति क्षेत्र के एक युवक की मोपेड का फाइनेंस देखने के लिए मोपेड को रोक लिया था।दोनों युवकों के सिकंदराराऊ नगर में रूपए दिए जाने के लिए बुलैट लेकर तेज गति से सिकंदराराऊ की ओर जाने के दौरान लूटपाट करने वाले युवक समझकर ग्रामीणों ने रोक लिया था।मगर लूटपाट के प्रयास जैसा कोई मामला नहीं निकला।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here