हाथरस 16 जुलाई । आगामी 2 सितम्बर बल्देव छठ से प्रारंभ हो रहे बृजक्षेत्र के मशहूर 109वें विशाल लक्खी मेला श्री दाऊजी महाराज के भव्य आयोजन के दृष्टिगत जिलाधिकारी रमेश रंजन ने मेला प्रांगण का निरीक्षण कर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक मूल-भूत सुविधाओ को तत्काल दुरस्त करने तथा परंपरागत रूप से आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रमों हेतु तैयारियां प्रारंभ करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने श्री दाऊजी महाराज मंदिर में विधि विधान पूर्वक पूजा अर्चना की। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने नगर पालिका द्वारा प्रदान की जाने वाली मूलभूत सुविधाओं यथा साफ-सफाई, पेयजल, सड़क आदि की व्यवस्था का निरीक्षण करने हेतु नगर पालिका प्रशासन को निर्देशित किया। परिसर की विशेष साफ-सफाई तथा पेयजल हेतु समरसेबिल, पानी की टंकी, स्टैण्ड पोस्ट, हैण्डपम्प आदि का स्थलीय भौतिक निरीक्षण करते हुए आवश्यक मरम्मत कराने के साथ ही मेला पण्डाल के सामने हो रहे जलभराव की निकासी हेतु सम्बन्धित नाले की साफ-सफाई कराने तथा अस्थायी गौशाला को सीवेज फार्म की भूमि पर स्थल चिन्हित करते हुए स्थानांतरित कराये जाने के निर्देश दिये। जिससे कि मेला अवधि में किसी भी प्रकार की कोई असुविधा आम जनमानस को न हो। जिलाधिकारी ने मेला परिसर में पार्किंग स्थल, विभिन्न समुदायों व राजनीतिक दलों के लगने वाले शिविर, दुकानों एवं आने-जाने वाले मार्गों हेतु किये जाने वाले प्रबन्ध के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी ली। मेला परिसर के दूसरी तरफ का रास्ता खराब होने पर नगर पालिका को सड़क की मरम्मत कराने के निर्देश दिए। मेला परिसर में बने शौचालय जर्जर अवस्था में मिलने एवं दरवाजे न होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए शौचालयों की मरम्मत कराते हुए दरवाजे आदि लगाने के निर्देश दिए। शौचालयों में पानी के उचित प्रबन्ध हेतु परिसर पर बनी टंकी एवं पाइप लाईन की जाँच कराते हुए क्षतिग्रस्त पाइप लाईन की मरम्मत कराने के निर्देश दिए।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी डा0 बसन्त अग्रवाल, अपर जिलाधिकारी न्यायिक मो0 मोइनुल इस्लाम, उपजिलाधिकारी सदर राजकुमार सिंह यादव, प्रभारी अधिकारी कलेक्ट्रेट विपिन कुमार शिवहरे, परियोजना निदेशक राजेश कुमार कुरील जिला विकास अधिकारी, जिला विकास अधिकारी अवधेश सिंह यादव, नगर पालिका अध्यक्ष आशीष शर्मा, डीसी मनरेगा, जिला पंचायत राज अधिकारी, अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग, अधिशासी अभियन्ता विद्युत, अवर अभियन्ता विद्युत, नाजिर सदर आदि उपस्थित रहे।