सादाबाद 08 जून । जिला सत्र न्यायालय के अधिवक्ता व मानवाधिकार, आरटीआई कार्यकर्ता एचबी शास्त्री ने मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश शासन को पत्र लिखकर ब्याजखोरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। अधिवक्ता ने बताया है कि प्रदेश के अधिकतर जनपदों में ग्राम पंचायत स्तर तक ब्याजखोरों का प्रभावी नेटवर्क है, जो गरीब मजदूर लोगों को रुपया देकर उनका शोषण करते रहते हैं। जो व्यक्ति एक बार इनके जाल में फंस जाता है, फसा ही रह जाता है। ब्याजखोर सालों का उसका शोषण करते रहते हैं। यह जरूरी है कि गैर लाइसेंस धारी ब्याजखोरों को चिन्हित किया जाए। इनके द्वारा वसूली जारी ब्याज का भौतिक सत्यापन कराकर गरीब मजदूर लोगों को इनके चंगुल से छुड़ाया जाए।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here