मुंबई 04 अप्रैल | महाराष्ट्र में हर दिन रेकॉर्ड तोड़ते कोरोना के मामलों पर लगाम लगाने के लिए प्रदेश की उद्धव ठाकरे सरकार ने नियमों को और सख्त कर दिया है। प्रदेश में वीकेंड और रात का लॉकडाउन लगाने का ऐलान किया गया है। लंबे समय से यह सवाल उठ रहे थे कि क्या कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद प्रदेश में फिर से लॉकडाउन लगेगा। इस पर फैसला लेते हुए महाराष्ट्र सरकार ने कैबिनेट की मीटिंग के बाद ऐलान किया कि प्रदेश में 30 अप्रैल तक लॉकडाउन का ऐलान नहीं किया जाएगा।

वहीं, वीकेंड और रात का लॉकडाउन जैसी व्यवस्थाओं से कोरोना के मामलों पर नियंत्रण पाने की कोशिश की जाएगी। इसके तहत शुक्रवार रात 8 बजे से सोमवार सुबह 8 बजे तक प्रदेश में लॉकडाउन रहेगा। वहीं, रात में सिर्फ अति आवश्यक सेवा करने वालों को ही ड्राइव या फिर ट्रैवेल करने की अनुमति होगी। इस दौरान बस, ट्रेन और रिक्शा चलने की अनुमति होगी और बस में सिर्फ उतने ही लोग यात्रा कर सकेंगे, जितनी उसकी सिटिंग क्षमता होगी।

थिएटर, रेस्ट्रॉन्ट, मॉल और बार पूरी तरह बंद रहेंगे। जिसमें ज्यादा आर्टिस्ट्स और कर्मचारियों को मौजूद रहना पड़े, ऐसी शूटिंग्स को भी अनुमति नहीं मिलेगी। प्रदेश सरकार के मंत्री असलम शेख ने रविवार को यह ऐलान किया है।

प्रदेश में भयावह हुई स्थिति
बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति दिनोंदिन भयावह होती जा रही है। शनिवार को यहां कोविड-19 के 49,447 नए मामले सामने आए जो कि अभी तक एक दिन सामने आए सबसे अधिक मामले हैं। इससे राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 29 लाख 53 हजार 523 हो गई, जबकि 277 और मरीजों की संक्रमण से मौत हो जाने से मृतक संख्या बढ़कर 55 हजार 656 हो गई।

प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि राज्य में ठीक होने की दर अब 84.49 प्रतिशत है, जबकि मृत्यु दर 1.88 प्रतिशत है। बयान में कहा गया कि 277 मौतों में से 132 मौतें पिछले 48 घंटों में हुईं। इस दौरान कुल 37,821 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दी गई जिससे महाराष्ट्र में अब तक ठीक हुए मरीजों की संख्या बढ़कर 24,95,315 हो गई। राज्य अब 4,01,172 उपचाराधीन मामले हैं।

मुंबई में इमारतें सील
कोरोना को लेकर चिंताजनक स्थिति के बीच राजधानी मुंबई में अब तक 600 इमारतें सील हो चुकी हैं। यानी इन इमारतों से कोई बाहर नहीं जा सकता और न ही अंदर जा सकता है। सिर्फ विशेष स्थिति में ही अनुमति मिलेगी। सारे जरूरी सामान की डिलिवरी गेट पर होगी। इमारतों को 14 दिन के लिए सील किया गया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here