हाथरस 22 मार्च | आज सेठ फूलचन्द बागला महाविद्यालय में बाहरी तत्वों के प्रवेश को रोकने, अनुशासन व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रखने एवं कोविड-19 के सन्दर्भ में शासनादेशों के अनुपालन को सुनिश्चित करने के उद्देश्य से महाविद्यालय की अनुशासन समिति ने पुनः मुख्य अनुशासन अधिकारी डा. चन्द्रशेखर रावल के निर्देशन में चैकिंग अभियान चलाया। आज 73 विद्यार्थियों को बिना गणवेश अथवा परिचय पत्र के महाविद्यालय में प्रवेश नहीं करने दिया गया तथा बिना मास्क पहने आये 127 विद्यार्थियों को भविष्य में मास्क लगाकर आने की चेतावनी देते हुए छोडा गया। इसके अतिरिक्त 7 विद्यार्थियों को महाविद्यालय में कक्षाओं के समय मोबाईल संचालित करते हुए पकडे जाने पर उनके मोबाईल जब्त कर लिए गये। जबकि बी.ए. द्वितीय वर्ष की एक छात्रा को अनुशासनहीनता में महाविद्यालय से एक सप्ताह के लिए निलम्बित कर दिया गया।
महाविद्यालय प्राचार्य मेजर राजकमल दीक्षित ने अनुशासन समिति के इस अभियान की सराहना करते हुए कहा कि महाविद्यालय के अनुशासन एवं शासन के आदेशों की अवहेलना किसी भी दशा में वर्दाश्त नहीं की जायेगी। मुख्य अनुशासन अधिकारी डा. चन्द्रशेखर रावल ने सभी अभिभावकों से अपील करते हुए कहा है कि वे महाविद्यालय में पढ़ने वाले अपने सभी आश्रितों को महाविद्यालय के अनुशासन एवं शासन के आदेशों के अनुपालन किये जाने का निर्देश और संस्कार दें जिससे महाविद्यालय में पठन-पाठन सुचारू रूप से संचालित रहे । इस दौरान सलाहाकार समिति की डा. सुनन्दा महाजन, अति. मुख्य अनुशासन अधिकारी डा. राजेश कुमार, वाणिज्य, डा. धर्मेन्द्र सिंह सेंगर, अनुशासन अधिकारी डा. एम.पी. सिंह, डा. डीके दीक्षित, डा. दीपा ग्रोवर, डा. विजयदीप शर्मा, डा. सुशील कुमार यादव, श्री यतीश नगाईच, चन्द्र प्रकाश, निकेश शर्मा, मानपाल, विनय कुमार एवं हेमन्त गौतम आदि उपस्थित रहे।