मुंबई 28 नवंबर | फ़िल्म 2.0 के सामने एक नई चुनौती आ गई है। मोबाइल ऑपरेटरों की संस्था ने तथ्यों को ग़लत ढंग से दिखाने का आरोप लगाते हुए सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से फ़िल्म के सेंसर सर्टिफिकेट को रद्द करने को कहा है। यह फिल्म दो दिन बाद रिलीज हो रही है।’एंथीरन’ के इस सीक्वल में रजनीकांत और अक्षय कुमार पहली बार आमने-सामने आ रहे हैं। अक्षय कुमार फ़िल्म में एक सिरफिरे साइंटिस्ट के किरदार में हैं जो मोबाइल फोन और टॉवर्स से निकलने वाले विकिरण से पर्यावरण और पक्षियों को होने वाले ख़तरों के चलते इसके ख़िलाफ़ एक जंग छेड़ देता है। फ़िल्म के ट्रेलर से इस कहानी का अंदाज़ा हो जाता है और कहानी का यही बिंदु मोबाइल ऑपरेटरों के विरोध की वजह बना है। मोबाइल ऑपरेटर्स की संस्था Cellular Operators Association Of India (COAI) ने सूचना मंत्रालय में इसके ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज़ करवाई है। शिकायत में दावा किया गया है कि 2.0 के ट्रेलर्स, टीज़र्स और प्रमोशनल वीडियो में यह ग़लत रूप से दिखाया गया है कि मोबाइल फोन और टॉवर्स के इर्द-गिर्द बनने वाले इलेक्ट्रोमैग्नेटिक क्षेत्र की वजह से पर्यावरण या जीवित प्राणियों को नुक़सान पहुंचता है।शिकायत में कहा गया है कि फ़िल्म और इससे जुड़ी सभी प्रमोशनल सामग्री सिनेमैटोग्राफ एक्ट 1952 की धारा 5 बी का उल्लंघन करती है, जो फ़िल्मों के सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए दिशा-निर्देश तय करती है। यह शिकायतकर्ताओं की मानहानि करती है और उनके संवैधानिक अधिकारों का हनन भी करती है। शिकायत में यह आरोप भी लगाया गया है कि 2.0 जनता के बीच वैज्ञानिक तथ्यों और मोबाइल फोनों के बारे में ग़लत धारणा कायम करती है।मामले में निर्माता कंपनी लायका प्रोडक्शंस और निर्देशक शंकर के अलावा करण जौहर की कंपनी धर्मा प्रोडक्शंस और रवीना टंडन के पति अनिल थडानी की कंपनी एए फ़िल्म्स को भी पार्टी बनाया गया है, जिनके पास फ़िल्म के वितरण अधिकार हैं। वैसे मोबाइल टॉवर्स से उत्सर्जित होने वाली तरंगों से सेहत को होने वाले संभावित नुक़सान के ख़िलाफ़ लड़ाई काफ़ी अर्से से लड़ी जा रही है। कई सेलेब्रिटीज़ और गैर सरकारी संस्थाएं इसमें शामिल हैं। 2.0 फ़िल्म 29 नवंबर को रिलीज़ हो रही है। फ़िल्म में एमी जैक्सन फ़ीमेल लीड में हैं।

हाथरस जनपद की सभी प्रमुख खबरें जानने के लिए हमारा हाथरस एंड्राइड प्ले स्टोर और एप्पल स्टोर से आज ही डाउनलोड करें –

https://play.google.com/store/apps/details?id=hamarahathras.com