हाथरस 03 मार्च| बुधवार को बागला डिग्री कॉलेज की दोनों इकाइयों के स्वयं सेवकों ने सात दिवसीय शिविर के दूसरे दिन गांव दयानतपुर में साक्षरता अभियान के तहत गांव में निरक्षर लोगों को विस्तार से साक्षरता के बारे में बताया। वह लोग जो अपना नाम नहीं लिखना जानते थे, उन्हें अक्षर बोध कराकर उनका नाम लिखना सिखाया। इकाई प्रथम के कार्यक्रम अधिकारी डॉ एम पी सिंह ने कहा कि बिना पढा लिखा व्यक्ति जीवन के हर क्षेत्र में असफल रहता है। अतः सभी लोगों को अपने जीवन में पठन-पाठन अवश्य करना चाहिए। प्रसिद्ध आशु कवि श्री अनिल बोहरे जी ने कहा कि सभी व्यक्तियों को एक बार जीवन में अपनी योग्यता का आंकलन अवश्य करना चाहिए उन्होंने अपनी कविता के माध्यम से प्रतिभागियों का उत्साहवर्धन किया । राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के कार्यक्रम अधिकारी डॉ संतोष कुमार ने कहा कि हम सभी स्वयं सेवकों की मदद से अपने देश की साक्षरता को बढ़ा सकते हैं तथा समाज को शिक्षित कर सकते हैं। शिविर में सहभागिता करने वाले प्रतिभागियों में अभिषेक, अर्जुन, संतोष, दुर्गेश, बृजेश, गणेश, ओमकार, नीतेश,शनि, देवचंद्र, प्राची, हर्षिता मान्या कृतिका अंजू चिरागअंजलि दीपिका प्रीती शिल्पी मयंक सचिन डौली नीतू कविता शिवानी अर्चना रेशम सरिता सृष्टि शबनम अंजना आकांक्षा खुशबू भारती नीतेश आकाश सनी राहुल कन्हैया मुन्ना लाल विपिन शिव कुमार बृजेश आदि प्रतिभागी उपस्थित रहे।